How to ITR filing complete guide 2020

How to ITR Filing

इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) फाइल करने का समय करीब आ रहा है. कई लोगों के लिए यह काफी चुनौती भरा काम है. छोटी सी गलती भी इनकम टैक्स विभाग के कान खड़े कर सकती है.
इस वजह से आप मुसीबत में पड़ सकते हैं.इस साल दिक्कतें और भी हैं. अगर आपने समय से (31 अगस्त तक) आईटीआर फाइल नहीं किया तो आपको जुर्माना भी चुकाना पड़ सकता है.
बहुत से लोग इनकम टैक्स रिटर्न (ITR Filing) फाइल करने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) या अन्य पेशेवर की मदद लेते हैं. कुछ लोग खुद भी आईटीआर फाइल कर लेते हैं.

ITR eFILING

कुछ लोगों को थोड़ी सी जानकारी की जरूरत होती है, जिसके मिलने के बाद वे आयकर रिटर्न (ITR Filing) फाइल कर सकते हैं. हम आपको यहां बता रहे हैं कि किस तरह आप कैसे खुद इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) फाइल कर सकते हैं.

आप हमारे इस पेज को बुकमार्क भी कर सकते हैं. समय-समय पर हम अपडेट की जानकारी देते रहते हैं. इसकी मदद से आप आईटीआर आराम से फाइल कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: RBI की घोषणा: 28 दिसंबर से बिकेगा सस्ता Gold 

सबसे पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है कि आपको किन नियमों का ध्यान रखना चाहिए?

फॉर्म 16 में किन बातों पर ध्यान दें, फॉर्म 26 AS का प्रयोग कैसे करें, बिना फॉर्म 16 के आईटीआर फाइल कैसे करें, कैपिटल गेन्स की गणना कैसे करें, जैसे विषय पर भी हम आपको लगातार जानकारी देते रहेंगे.

अगर आपने इनकम टैक्स रिटर्न (ITR Filing) फाइल करने में देर कर दी तो क्या हो सकता है, अगर आप डेडलाइन मिस कर गए तो क्या करें, जैसे विषय पर भी हम आपको लगातार अपडेट करते रहेंगे.

ITR-1

इस साल से आयकर विभाग ने करदाताओं से कहा है कि वे आईटीआर-1 फाइल करते वक्त आमदनी का पूरा ब्रेक अप उपलब्ध करायें. इसके साथ ही इस बार हाउस प्रॉपर्टी से आमदनी का जिक्र भी साल 2017-18 के आईटीआर में करना पड़ेगा.

इनकम टैक्स विभाग ने अपनी ई-फाइलिंग वेबसाइट पर आईटीआर-1 या सहज अपलोड कर दिया है. आप इसे यहां देख सकते हैं:
incometaxindiaefiling.gov.in

सैलरी पाने वाले ज्यादातर लोग आईटीआर-1 फॉर्म की मदद से इनकम टैक्स रिटर्न भरते हैं.

फॉर्म 16 में जहां आपको वेतन से आमदनी के बारे में जानकारी मिलती है, वहीं इस आर्टिकल में हम आपको यह बता रहे हैं कि किस तरह आप अपने आईटीआर फॉर्म को बिना किसी गलती के भर सकते हैं:

इनकम टैक्स के नियमों के हिसाब से 15 जून तक आपको फॉर्म 16 मिल जाना चाहिए.

अगर आपको कंपनी से फॉर्म 16 मिल चुका है या मिलने वाला है तो यह जानना जरूरी है कि इसमें शामिल किन आंकड़ों पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है.